मुरादाबाद और बरेली का किया दौरा, लोगों के मन से कोरोना के भय को मिटाने के लिए फील्ड पर उतरे सीएम योगी.

Total Views : 771
Zoom In Zoom Out Read Later Print

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रशासनिक मशीनरी कोरोना की दूसरी लहर पर अंकुश लगाने में सफल होगी. सीएम शनिवार को कोरोना के प्रोटोकॉल का पालन करने और वर्तमान की रणनीति तय करने के लिए मुरादाबाद और बरेली मंडल की समीक्षा के लिए पहुंचे थे.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को कोविड संक्रमण के प्रशासनिक उपायों की जानकारी और समीक्षा करने मुरादाबाद और बरेली के दौरे पर थे. अपने दौरे के दौरान सीएम ने मुरादाबाद में कोविड कमांड सेंटर का निरीक्षण किया और फिर मनोहरपुर गांव में निगरानी समितियों और आरआरटी की तरफ से किए जा रहे सर्वेक्षण एवं टेस्टिंग कार्यों का औचक निरीक्षण किया. इस दौरान उन्होंने मेडिकल किट की उपलब्धता की समीक्षा करते हुए आवश्यक निर्देश भी दिए.

सीएम ने की बैठक 

सीएम योगी पहले मुरादाबाद पहुंचे, जहां उन्होंने पहले इंटीग्रेटेड कोविड कमांड सेंटर का दौरा किया और इसके बाद सर्किट हाउस में अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक भी की. इसके साथ ही सीएम ने मुरादाबाद मंडल के अन्य जिलों के अधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक भी की. 

यूपी निभा रहा है अहम भूमिका 

कोविड प्रबंधन की समीक्षा के लिए मुरादाबाद और बरेली मंडल के दौरे पर निकले मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने निगरानी समितियों की तरफ से किये जा रहे कार्यों का मौके पर निरीक्षण भी किया. बरेली में पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के खिलाफ वर्तमान में जो देश की लड़ाई चल रही है उसमें सबसे बड़ी आबादी वाला राज्य होने के बावजूद उत्तर प्रदेश प्रभावी ढंग से लड़ाई लड़ रहा है. 

सीएम ने की मुरादाबाद और बरेली मंडल की समीक्षा 

सीएम ने कहा कि ''प्रदेश में जहां संक्रमण के ज्यादा मामले थे, वहीं से मैंने समीक्षा की शुरुआत की है. मैंने सोचा कि फील्ड में उतरकर लोगों के मन के भय को दूर किया जाए. कोरोना के प्रोटोकॉल का पालन करने और वर्तमान की रणनीति तय करने के लिए मुरादाबाद और बरेली मंडल की समीक्षा के लिए आया हूं.''

दूसरी लहर पर अंकुश लगाने में सफल होंगे

मुख्‍यमंत्री ने आश्वास दिया कि प्रशासनिक मशीनरी कोरोना की दूसरी लहर पर अंकुश लगाने में सफल होगी. उन्होंने अपील करते हुए कहा कि खुद का बचाव करते हुए कोरोना के प्रति व्यापक जागरूकता का कार्यक्रम जरूर चलाएं और अगर आवश्यक ना हो तो घर से बाहर ना निकलें, अगर निकलना भी पड़े तो अनिवार्य रूप से मास्‍क लगाएं और दो गज दूरी का पालन जरूर करें.

कोरोना टीका सबको लगे

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोई भी व्यक्ति कोरोना टीका से वंचित नहीं रहना चाहिए. उन्होंने कहा कि टीका जीवन रक्षक के रूप में हमारे सामने आया है और लोगों के लिए उपयोगी रक्षा कवच बन सकता है. उन्होंने बैठक में शाहजहांपुर, बदायूं, पीलीभीत और बरेली के ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यरत निगरानी समितियों का ब्यौरा जिलाधिकारियों से प्राप्त किया और कहा कि कोरोना को रोकने के लिए प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर समन्वय किया जाए, साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता अभियान को और गति दी जाए.

एम्बुलेंस का किराया निर्धारित किया जाए 

मुख्यमंत्री ने बरेली मंडल के सभी जिलाधिकारियों से कहा कि एम्बुलेंस का किराया निर्धारित कर दिया जाए ताकि रोगियों के आवागमन की सुविधा में व्यवधान ना आने पाए. उन्होंने ये भी निर्देश दिए कि श्मशान घाटों पर भी निगरानी रखी जाए और वहां पर यदि कोई समस्या आ रही है तो प्राथमिकता पर उसका समाधान किया जाए.