मुलायम सिंह ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, अखिलेश यादव ने बताया था बीजेपी का टीका

Total Views : 284
Zoom In Zoom Out Read Later Print

हालांकि, कुछ समय बाद अखिलेश यादव ने अपना बयान वापस लेते हुए कहा था कि वो पूर्ण परीक्षण होने के बाद कोरोना का टीका लगवाएंगे। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान उनके सुर बदल गए थे। वह बीजेपी सरकार से सभी लोगों को मुफ्त में वैक्सीन लगवाने की मांग करने लगे थे। वैक्सीन लगवाते हुए मुलायम सिंह यादव की तस्वीर सेाशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को कोरोना टीका लगवा  लिया। मुलायम सिंह ने वैक्सीन की पहली डोज गुरुग्राम के मेदांता में जाकर लगवाई। इससे पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने वैक्सीन को बीजेपी का टीका कहकर नहीं लगवाने की बात कही थी।  

अब मुलायम के टीका लगवाते ही भाजपा नेताओं ने अखिलेश पर तंज कसना शुरू कर दिया है। बीजेपी यूपी की तरफ से तंज कसते हुए कहा गया कि अगर अखिलेश यादव की मानें तो आज समाजवादी पार्टी के संस्थापक श्री मुलायम सिंह यादव जी ने 'भाजपा' की वैक्सीन लगवा ली। अब वो भाजपा का प्रचार कर रहे हैं या अपने पुत्र द्वारा फैलाए गए भ्रम को तोड़ रहे हैं... ये आप तय कर लीजिए! हां, वैक्सीन जरूर लगवाइए!

पीडब्ल्यूडी मंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सपा संरक्षक व पूर्व मुख्यमंत्री श्री मुलायम सिंह यादव जी स्वदेशी वैक्सीन लगवाने के लिए आपका धन्यवाद। आपके द्वारा वैक्सीन लगवाना इस बात का प्रमाण है कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश जी द्वारा वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाई गयी थी। इसके लिएअखिलेश जी को माफ़ी मांगनी चाहिए।

सपा संरक्षक व पूर्व मुख्यमंत्री श्री मुलायम सिंह यादव जी स्वदेशी वैक्सीन लगवाने के लिए आपका धन्यवाद। आपके द्वारा वैक्सीन लगवाना इस बात का प्रमाण है कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश जी द्वारा वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाई गयी थी। इसके लिएअखिलेश जी को माफ़ी मांगनी चाहिए।

छवि

यूपी भाजपा के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि एक अच्छा संदेश। आशा करता हूं कि सपा के कार्यकर्ता एवं उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष भी अपनी पार्टी के संस्थापक से प्रेरणा लेंगे। अखिलेश यादव ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि मैं कोरोना का टीका नहीं लगवाऊंगा। ये टीका तो भाजपा वालों का है। मैं इस पर कैसे विश्वास कर सकता हूं।‘ अखिलेश यादव के बयान पर सोशल मीडिया पर भी बड़ा हंगामा हुआ था।