अपनी ही लोकसभा सीट पर मुश्किल में राहुल गांधी, वायनाड के एक और सीनियर कांग्रेस नेता का इस्तीफा

Total Views : 24
Zoom In Zoom Out Read Later Print

कांग्रेस पार्टी को राहूल गांधी की सीट यानी केरल के वायनाड में एक और बड़ा झटका लगा है। यहां से पूर्व डीसीसी अध्यक्ष पीवी बालचंद्रन ने मंगलवार को पार्टी छोड़ दी। उन्होंने आरोप लगाया कि पुरानी पार्टी भाजपा के के बढ़ते प्रभाव का मुकाबला करने में विफल रही है।

केपीसीसी कार्यकारी समिति के सदस्य बालचंद्रन ने पार्टी के साथ अपने 52 साल के लंबे जुड़ाव को समाप्त करते हुए कहा कि बहुसंख्यक और अल्पसंख्यक दोनों समुदाय कांग्रेस से दूर जा रहे हैं। लोग उस पार्टी के साथ खड़े नहीं होंगे जिसने अपनी दिशा खो दी है।

उन्होंने कांग्रेस के राज्य नेतृत्व की कार्यशैली की भी आलोचना की और आरोप लगाया कि वे लोगों को प्रभावित करने वाले मुद्दों पर स्पष्ट राजनीतिक रुख अपनाने में सक्षम नहीं हैं। एक संवाददाता सम्मेलन में इस फैसले की घोषणा करते हुए बालचंद्रन ने कहा कि उन्होंने पार्टी छोड़ने का फैसला इसलिए लिया कि उन्हें लगा कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भावना के अनुरूप काम नहीं कर पाएगी।

वायनाड में कांग्रेस में हो रहे इस्तीफे की श्रृंखला में बालचंद्रन का यह ताजा मामला है। पूर्व विधायक के सी रोसाकुट्टी, केपीसीसी सचिव एम एस विश्वनाथन और डीसीसी महासचिव अनिल कुमार ने इस साल अप्रैल में राज्य में हुए विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी छोड़ दी थी।

बालचंद्रन का पार्टी छोड़ने का फैसला भी कांग्रेस के मौजूदा नेतृत्व के लिए एक झटका है।