इन देशों में खुले रेड लाइट एरिया पर किसिंग और तेजी से सांस लेने पर बैन

Total Views : 1,165
Zoom In Zoom Out Read Later Print

कड़े प्रतिबंधों के साथ. आप रेड लाइट एरिया जा सकते हैं. लेकिन किस नहीं कर सकते. न ही तेजी से सांस ले सकते हैं

कोरोना वायरस की वजह से लगा लॉकडाउन अब दुनियाभर में धीरे-धीरे खत्म हो रहा है. या फिर उसमें ढील दी जा रही है. नीदरलैंड्स और थाईलैंड की सरकारों ने अपने वेश्यालयों और रेड लाइट एरिया को खोलने की अनुमति दे दी है. लेकिन कड़े प्रतिबंधों के साथ. आप रेड लाइट एरिया जा सकते हैं. लेकिन किस नहीं कर सकते. न ही तेजी से सांस ले सकते हैं


बैंकॉक का रेड लाइट एरिया तीन महीने बंद रहने के बाद 1 जुलाई से खुल गया. थाईलैंड के बार, काराओके वेन्यू, मसाज पार्लर आदि भी खुल गए हैं. क्योंकि पिछले 37 दिनों से इस देश में कोरोना का एक भी लोकल केस सामने नहीं आया है. अब हजारों सेक्स वर्कर वापस अपने काम पर लौट चुकी हैं.


समाचार एजेंसी रॉयटर्स की खबर के मुताबिक रेड लाइट एरिया में जाने वालों को कुछ प्रतिबंधों के साथ जाना होगा. वे अपने चेहरे से मास्क नहीं उतारेंगे. खुद को पहले ढंग से सैनिटाइज करेंगे. किसिंग नहीं करेंगे और तेज सांस नहीं लेंगे.


रेड लाइट एरिया में जाने से पहले सभी ग्राहकों का तापमान लिया जाएगा. उनका पूरा एड्रेस, नाम, पता और फोन नंबर नोट किया जाएगा. यही नहीं डांस बार जाने वाले को स्टेज से दो मीटर की दूरी पर बैठना होगा. अंदर मौजूद लोगों से भी एक मीटर की दूरी रखनी होगी


नीदरलैंड्स में भी 1 जुलाई से ही रेड लाइट एरिया खुल गए हैं. यहां भी ठीक वैसे ही नियम लागू किए गए हैं जैसे थाईलैंड में हैं. दोनों देशों में वैसे भी सेक्स वर्कर्स पहले से ही सख्त हाइजीन और सफाई का ख्याल रखती आई हैं. कोरोना के बाद अब ये और बढ़ जाएगा.


एमस्टरडैम की पब्लिक हेल्थ एडवाइजर डॉबी मेनसिंक कहती हैं कि रेड लाइट एरिया में रहने वाली सेक्स वर्कर्स के लिए कोविड-19 का खतरा ज्यादा है. क्योंकि उनका काम ही वैसा है. इसलिए लोगों को अपनी जरूरतों को कई सख्त प्रतिबंधों में बांधकर पूरा करना होगा. ताकि सभी सुरक्षित रहें.


मोइरा मोना नाम की एक सेक्स वर्कर ने बताया कि उसने पहले ही सुरक्षा से संबंधित अपनी सारी तैयारियां कर ली हैं. उसने लेटेक्स के कपड़े, लेदर फेस मास्क, दस्ताने, सर्जिकल फेस मास्क आदि मंगवा लिए हैं. इसलिए उसे चिंता नहीं है. उसने कहा कि जो भी नियम तोड़ेगा उसे वापस भेज देंगे.